• Mon. May 20th, 2024

aaaajkitaazakhabar.com

ताजगी भरी खबरें, सटीक और सबसे पहले

दिल्ली में एक घोषित अपराधी का अपहरण कर तीन बदमाशों ने हत्या कर दी

Byaaaajkitaazakhabar.com

Jun 26, 2023

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जाकिर और आरोपी पहले से ही परिचित थे। अब तक की जांच से पता चला है कि आरोपियों को जाकिर के पास अत्यधिक धन था। इसके बाद आरोपी उसे खोज रहे थे।

न्यू दिल्ली: अपहरण के बाद न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी थाने के घोषित अपराधी की बदमाशों ने हत्या कर दी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। सोनू उर्फ जुनैद, रहीस अहमद और अब्दुल रशीद, तीनों आरोपियों पर पहले भी कई थानों में केस दर्ज हैं। हालाँकि, पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है और अन्य आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है।

दक्षिणी पूर्वी दिल्ली के डीसीपी राजेश देव ने बताया कि मृतक 36 साल का जाकिर अली इंदिरा कैंप पहाड़ी, तैमूर नगर में अपने परिवार के साथ रहता था। वह एनएफसी थाने का घोषित अपराधी था और शातिर लुटेरा था। पुलिस को दिए गए बयान में जाकिर की पत्नी सूरमा बेगम ने बताया कि 23 जून की देर रात करीब 3 बजे पांच से छह लड़के उनके घर आए थे और जाकिर से पूछताछ कर रहे थे। इसके बाद जाकिर अली घर से भाग गया। 24 जून की सुबह 4:50 बजे जाकिर ने सूरमा को फोन किया और बताया कि हजरत निजामुद्दीन को कुछ लोग लेकर आए हैं और उसे कैद कर रखा है। जाकिर ने अपनी पत्नी को बताया कि घर के कूड़ेदान में पैसे रखे हैं। वह धन लेकर हजरत निजामुद्दीन जाएगा। सुरमा पैसे लेकर अपनी बेटी के साथ हजरत निजामुद्दीन गई और वहां कामरान नामक एक व्यक्ति को पैसे दिए। पैसे लेने के बाद कामरान ने कहा कि जाकिर को एक घंटे बाद छोड़ देगा। Suarma अपनी बेटी को घर ले आई।

24 जून की दोपहर 12 बजे, अज्ञात व्यक्ति ने सूरमा को फोन किया कि उनके पति को गंभीर हालत में सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल पहुंचने पर पता चला कि उसके पति चोट से मर गया था। उसके बयान पर हत्या और अपहरण का मामला दर्ज किया गया और जांच शुरू की गई। तीन अपराधी पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और मुखबिरों की मदद से पहचान लिया। फिलहाल, आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

पैसा कहां से आया था 
पुलिस सूत्रों ने बताया कि जाकिर और आरोपी पहले से एक-दूसरे को जानते थे. अभी तक की जांच में सामने आया है कि आरोपियों को पता था कि जाकिर के साथ बहुत पैसा है. इसके चलते आरोपी उसकी तलाश कर रहे थे. आरोपियों के घर पहुंचने पर जाकिर भागा तो मगर रास्ते में आरोपियों के साथियों ने उसे दबोच लिया. ऐसे में पुलिस अब यह पता चला रहा है कि यह पैसा कहां से आया था. सूत्रों ने बताया कि हो सकता है कि यह पैसा किसी वारदात का हो और जाकिर अकेले रख रहा हो, जिसके चलते बाकी लोगों ने उसके पीट पीट कर मार डाला.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *